पॉलिटेक्निक क्या है? पूरी जानकारी

पॉलिटेक्निक भारत के साथ साथ पूरी दुनिया में बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है क्यूंकि पॉलिटेक्निक में बहुत सारी टेक्निकल कोर्स होते हैं जिसे कम समय में किया जा सकता है और एक अच्छी नौकरी पायी जा सकती है.

आज के समय में कई छात्र बहुत कम समय में एक अच्छी नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं जिससे वो खुद को और अपने परिवार को आर्थिक रूप से मदद कर सकें और इसी वजह से छात्र पॉलिटेक्निक डिप्लोमा की तरफ आकर्षित होते हैं.

आज हम आपको इस पोस्ट में पॉलिटेक्निक कोर्स, विषय, फीस, अत्यादि की जानकारी देंगे।

पॉलिटेक्निक क्या है

पॉलिटेक्निक क्या है?

पॉलिटेक्निक एक डिप्लोमा कोर्स है जिसके तहत कई सारे Technical Courses आते हैं जैसे: Civil Engineering, Mechanical Engineering, Electrical Engineering, अत्यादि।

Polytechnic शब्द दो शब्दों से जुड़कर बना है Poly और Technic जहाँ पर Poly का मतलब होता है बहु मतलब कई सारे वहीँ Technic का मतलब होता है तकनीक जो मिलकर बनता है बहुतकनीक और बहुतकनीक का मतलब होता है कई सारे ऐसे Courses जो Technical हैं.

Polytechnic कौन कर सकता है?

Institutes और Collages ने कुछ मापदंड रखें है जिसके अंतर्गत आने वाले छात्र ही पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं. अगर आप किसी भी इंस्टिट्यूट या कॉलेज में पॉलिटेक्निक डिप्लोमा के लिए अप्लाई जकरने की सोच रहे हैं तो उससे पहले योग्यता मापदंड को जरूर जांच लें.

  Silai Course (सम्पूर्ण सिलाई कटाई कोर्स) सिलाई कोर्स इन हिंदी
शर्तेँयोग्यता मापदंड
राष्ट्रीयताभारत में पॉलिटेक्निक कर रहे हैं तो राष्ट्रीयता भारतीय होनी चाहिए।
योग्यतासरकार द्वारा प्रमाणित स्कूल से 10वीं या फिर 12वीं पास होना चाहिए।
स्कूल न्यूनतम अंक10वीं या फिर 12वीं कक्षा में आपके 40% अंक होने चाहिए तभी आप
पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कर सकते हैं. ध्यान दें इंस्टिट्यूट और कॉलेज
के अनुसार अंक कम या ज्यादा भी हो सकता है.
अनिवार्य विषयज्यादातर इंस्टिट्यूट या कॉलेज में पॉलिटेक्निक डिप्लोमा के लिए
Math, Science और English अनिवार्य रखा गया है.

Polytechnic के Courses

पॉलिटेक्निक में बहुत सारे डिप्लोमा कोर्स होते हैं जिन्हें आप कर सकते हैं. कई डिप्लोमा कोर्स 1 साल से 2 साल के बीच में होते है तो कई 2 से 3 साल तक के होते हैं. पॉलिटेक्निक में आप engineering के फील्ड में कई सारे कोर्स में अपने पसंद की कोर्स को चुन कर पढाई कर सकते हैं.

पॉलिटेक्निक के प्रसिद्ध कोर्स की लिस्ट:

  • Automobile Engineering
  • Computer Engineering
  • IT Engineering
  • Civil Engineering
  • Electrical Engineering
  • Mechanical Engineering
  • Mining Engineering
  • Aerospace Engineering
  • Chemical Engineering
  • Plastics Engineering
  • Aeronautical Engineering
  • Electrical and Electronics Engineering
  • Instrumentation Technology
  • Medical Laboratory Technology

Polytechnic कोर्स कैसे करें?

पॉलिटेक्निक के किसी भी कोर्स में अप्लाई करने से पहले आपको CET यानी Common Entrance Test देना पड़ता है और इस टेस्ट में पास होने के बाद ही आप पॉलिटेक्निक कोर्स करने के योग्य बनते हैं. कई प्राइवेट इंस्टिट्यूट और कॉलेज में ये टेस्ट अनिवार्य नहीं है लेकिन सरकारी कॉलेज में ये टेस्ट देना जरूरी होता है.

Entrance Test पास करने के बाद आप पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए enroll कर सकते हैं और पॉलिटेक्निक की पढाई शुरू कर सकते हैं.

  इंग्लिश सीखना है अपनाएं ये 66 Tips | 30 दिन में इंग्लिश बोलना और पढ़ना सीखो

Polytechnic कोर्स की फीस कितनी होती है?

सरकारी कॉलेज: अगर आपका एडमिशन किसी अच्छे सरकारी कॉलेज में हो जाता है तो आपको Per Semester का सिर्फ ₹15,000 रूपए से ₹20,000 रूपए ही देना होगा। सरकारी कॉलेज काफी सस्ते और अच्छे होते हैं इसीलिए आपको सबसे पहले सरकारी कॉलेज में ही एडमिशन लेने का सोचना चाहिए।

प्राइवेट कॉलेज: अगर आप प्राइवेट पॉलिटेक्निक कॉलेज में दाखिला लेते हैं तो आपको Per Semester का ₹30,000 रूपए से ₹50,000 रूपए लग सकता है. प्राइवेट कॉलेज सरकारी कॉलेज से काफी महंगे होते हैं.

Polytechnic करने के फायदे

पॉलिटेक्निक करने के बहुत फायदे होते हैं और कुछ फायदे तो आपको बहुत ही ज्यादा पसंद आएंगे।

  1. Engineering करने का एक आसान तरीका है पॉलिटेक्निक कोर्स।
  2. पॉलिटेक्निक करने के बाद आप B.Tech के दुसरे साल में सीधा एडमिशन ले सकते हैं.
  3. पॉलिटेक्निक कोर्स करने से समय और पैसे की काफी बचत होती है.
  4. सबसे महत्वपूर्ण पॉलिटेक्निक में Practical Skill पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है Theory पढ़ाने के बजाय जो की किसी भी तरह के जॉब को पाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है.
  5. पॉलिटेक्निक डप्लोमा के साथ आप आसानी से सरकारी नौकरी हासिल कर सकते हैं.

Polytechnic के बाद नौकरी के अवसर

पॉलिटेक्निक करने के बाद आप अगर जॉब करना चाहते हैं तो आपके पास 2 चुनाव होते हैं, पहला प्राइवेट जॉब और दूसरा गवर्नमेंट जॉब. पॉलिटेक्निक करने के बाद या तो आप प्राइवेट जॉब की तरफ जा सकते हैं या फिर आप सरकारी नौकरी कर सकते हैं.

पॉलिटेक्निक करने के बाद कॉलेज में ही कई सारी प्राइवेट कंपनी छात्रों को नौकरी देने के लिए आती है और इंटरव्यू लेती है. अगर आप पॉलिटेक्निक में अच्छे नंबर से पास होते हैं और इंटरव्यू क्लियर कर लेते हैं तो आप वहीँ पर प्राइवेट नौकरी हासिल कर सकते हैं.

  [50 Tips] पढाई कैसे करें - पढाई में मन लगाने के तरीके

अगर आप पॉलिटेक्निक करने के बाद सरकारी नौकरी हासिल करना चाहते हैं तो निचे दिए सेक्टर में अप्लाई कर सकते हैं. ये सारे गवर्नमेंट सेक्टर पॉलिटेक्निक वालों के लिए हर साल बहुत सारे Job Vacancies निकालते हैं जिसके लिए आप अप्लाई कर सकते हैं.

  • DRDO – Defence research and development organisation
  • SSC – Staff selection commission
  • RRB – Railway recruitment board
  • NTPC – National thermal power corporation
  • NPCIL – Nuclear power corporation of india
  • SAIL – Steel authority of india
  • PGCI – Power grid corporation of india
  • ONGC – Oil and natural gas corporation
  • ICG – Indian coast guard

Polytechnic जॉब की सैलरी

पॉलिटेक्निक करने के बाद आपको जॉब की अच्छी खासी सैलरी मिलती है जो सालाना बढ़ती रहती है.

प्राइवेट जॉब: अगर आप पॉलिटेक्निक करने के बाद प्राइवेट जॉब में जाते हैं तो आपकी सैलरी शुरू में 2 लाख से 3 लाख रूपए Per Annum हो सकती है. प्राइवेट जॉब में प्रमोशन और साल के हिसाब से सैलरी बढ़ती है.

सरकारी जॉब: अगर आप पॉलिटेक्निक के बाद सरकारी नौकरी में जाते हैं तो आपकी सालाना सैलरी 2 लाख से 4 लाख रूपए के बीच में हो सकती है. सरकारी जॉब में आपको सैलरी के साथ साथ मुफ्त medical और अपार्टमेंट भी मिलता है.

Conclusion

कुल मिला कर बात करें तो पॉलिटेक्निक एक बहुत अच्छा कोर्स है Practical Knowledge हासिल करने के लिए और एक अच्छी नौकरी प्राप्त करने के लिए. अगर आप 10वीं या 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं तो ये एक अच्छा निर्णय होगा।

Leave a Comment